Sunday, June 16, 2024

महंत बालकनाथ योगी कौन हैं, राजस्थान के योगी को जानिए।

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के नेता महंत बालकनाथ (Mahant Balaknath Yogi) कौन हैं? उनके बारे में जानते हैं…

महंत बालकनाथ कौन हैं, उनका पूरा लाइफ स्कैन (Mahant Balaknath Yogi)

पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव के रिजल्ट आने के बाद तथा तीन राज्यों में भाजपा को बहुमत मिलने के बाद अब सभी राज्यों में मुख्यमंत्री के उम्मीदवार के नाम की चर्चा हो रही है। राजस्थान में भी मुख्यमंत्री के उम्मीदवार के नाम की चर्चा है कि कौन राजस्थान का मुख्यमंत्री बनेगा?

जब भारतीय जनता पार्टी ने जब अपना चुनावी कैंपेन शुरू किया था तो उसने राजस्थान के मुख्यमंत्री के लिए किसी भी चेहरे को सामने रखकर घोषणा नहीं की थी कि यही व्यक्ति भाजपा द्वारा राजस्थान का चुनाव जीतने की स्थिति में मुख्यमंत्री बनेगा। हालांकि वसुंधरा राजे राजस्थान का दो बार मुख्यमंत्री रह चुकी हैं, लेकिन फिलहाल उनका नाम बहुत अधिक उनके नाम को लेकर यह निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता कि वह की राजस्थान की मुख्यमंत्री बनेंगी।

राजस्थान के मुख्यमंत्री बनने के लिए कई नाम चर्चा में है, जिनमें अर्जुनराम मेघवाल, गजेंद्र सिंह शेखावत, दिया कुमारी, वसुंधरा राजे सिंधिया, राज्यवर्धन सिंह राठौर के अलावा महंत बालकनाथ का नाम सबसे अधिक चर्चा में है।

महंत बालकनाथ को राजस्थान के भावी मुख्यमंत्री के रूप में देखा जा रहा है। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि उत्तर प्रदेश की तर्ज पर महन्त बालकनाथ को ही राजस्थान का मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है।

जिस तरह उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाकर भाजपा ने सबको चौंका दिया और आदित्यनाथ ने सफलतापूर्वक मुख्यमंत्री पद को जिस तरह संभाला है और लोकप्रियता अर्जित की है, उसी को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी महंत बालकनाथ को राजस्थान का मुख्यमंत्री बना सकती है।

आईए जानते हैं, बालक नाथ कौन हैं?

महंत बालकनाथ ‘राजस्थान के योगी’ कहे जाते हैं, जिनकी तुलना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से की जाती है। उन्हें राजस्थान के भावी मुख्यमंत्री के तौर पर भी देखा जा रहा है।

महंत बालकनाथ नाथ संप्रदाय के आठवें महंत हैं, जो 29 जुलाई 2016 से नाथ संप्रदाय के महंत बने हुए हैं। उनके गुरु महंत चाँदनाथ ने उन्हें नाथ सम्प्रदाय का आठवाँ महंत नियुक्त किया था।

वह महंत होने के अलावा राजनीतिज्ञ भी हैं और राजस्थान के अलवर लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के सांसद भी हैं। वह पहली बार 2019 में लोकसभा के सांसद बने थे। उन्होंने अभी 2023 के राजस्थान के विधानसभा चुनाव में राजस्थान की तिजारा विधानसभा सीट से विधायकी का चुनाव लड़ा है और कांग्रेस के उम्मीदवार इमरान खान को हराकर जीत भी हासिल की है।

यदि उन्हें राजस्थान का मुख्यमंत्री बनाया जाता है तो उन्हें लोकसभा की सांसदी का पद छोड़ना पड़ेगा। फिलहाल लोकसभा में सांसद होने के साथ-साथ वह राजस्थान विधानसभा का भी चुनाव जीत चुके हैं। अब आगे देखना होगा कि वह कौन सा पद अपने पास रखते हैं।

महंत बालक नाथ का शॉर्ट लाइफ स्कैन

  • महंत बालकनाथ की आयु केवल 39 वर्ष है। उनका जन्म राजस्थान की बहरोड़ तहसील के कोहराना गाँव में 16 अप्रैल 1984 को हुआ था।
  • उनका जन्म एक यादव किसान परिवार में हुआ था। बचपन में उनका नाम गुरुमुख रखा गया।
  • 6 वर्ष की उम्र से ही उनकी आध्यात्म के प्रति रुचि जागृत हो गई थी, इसी कारण उनके परिवार ने उन्हें नाथ संप्रदाय के मठ में आगे की शिक्षा ग्रहण करने के लिए रोहतक जिले के मत्स्येन्द्र आश्रम भेज दिया, जहाँ पर महंत खेतानाथ से उन्होंने गुरु दीक्षा ली और आरंभिक शिक्षा ग्रहण की।
  • उसके बाद महेंद्र खेतानाथ ने उन्हें महंत चाँदनाथ के पास हनुमागढ़ जिले नाथावली थेरी गाँव के एक नाथ मठ में भेज दिया। जहाँ वह महंत चाँदनाथ के परम शिष्य बन गए। आरंभ में उनकी चंचल प्रवृत्ति और बालकों जैसी हरकतों के कारण महंत चाँदनाथ उन्हें बालकनाथ नाम से पुकारना शुरू कर दिया और बालकनाथ उनका नाम प्रचलित नाम पड़ गया। वह महंत चाँदनाथ के परमप्रिय शिष्य बन गए।
  • 29 जुलाई 2016 को महंत चाँदनाथ ने उन्हें अपना उत्तराधिकारी के रूप में नियुक्त कर दिया और वह नाथ संप्रदायके आठवें महंत बने। इसके अलावा बालकनाथ रोहतक स्थित बाबा मस्तनाथ विश्वविद्यालय  के मुख्य महंत यानि वाइस चांसलर भी हैं।
  • राजनीति के जीवन में उनका प्रवेश 2019 में ही हुआ यानी राजनीति में आए हुए उन्हें बहुत अधिक समय नहीं हुआ है।
  • 2019 में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर अलवर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा और जीतकर लोकसभा सांसद के रूप में लोकसभा सदन पहुंचे।
  • राजस्थान में हुए अभी हाल-फिलहाल के विधानसभा चुनाव में उन्होंने तिजारा विधानसभा सीट से विधायकी का चुनाव भी लड़ा है। उन्होंने कांग्रेस के इमरान खान को हराकर विधायकी चुनाव भी जीता है।
  • वह बीजेपी के फायर ब्रांड हिंदुत्व वादी नेता के तौर पर जाने जाते हैं। यूपी में योगीआदित्यनाथ की जो छवि है, वही राजस्थान में महंत बालकनाथ की है, इसी कारण उन्हें ‘राजस्थान का योगी’ भी कहा जाता है।
  • उनकी लोकप्रियता दिनों दिन बढ़ती जा रही है और राजस्थान की विधानसभा चुनाव से पहले भी उन्हें उनका नाम राजस्थान के भावी मुख्यमंत्री के रूप में चर्चा में रहता था।
  • फिलहाल वह अलवर से लोकसभा सांसद है। राजस्थान की तिजारा सीट से विधायक का चुनाव भी जीत चुकें हैं।
  • महंत बालकनाथ रोहतक स्थित मस्तनाथ विश्वविद्यालय की महंत यानि वाइस चांसलर भी है।
महन्त बालकनाथ की X (Twitter) ID

www.twitter.com/MahantBalaknath


ये भी पढ़ें

4 शंकराचार्य कौन हैं। कौन से मठ से शंकराचार्य चुने जाते हैं? विस्तार से जानें।

WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles