Sunday, March 3, 2024

हल्दी के फायदे ही फायदे – इनका लाभ उठाने से बिल्कुल न चूकें।

आज हम हल्दी के फायदे (Benefits of Turmeric) उपयोग और औषधीय गुणों के बारे में जानते है। आयुर्वेद में हल्दी के फायदे के बारे में विस्तृत उल्लेख है । इस लेख में हम आपको हल्दी के फायदे–नुकसान और खाने के तरीके के बारे में विस्तार से बताएंगे…

हल्दी के फायदे, उपयोग और औषधीय गुण (Benefits of Turmeric)

आपको हर घर की रसोई में हल्दी ज़रूर मिलेगी । हल्दी खाने का स्वाद और रंग रूप तो बढ़ाती ही है साथ ही यह कई तरह के रोगों से भी रक्षा करती है । भारतीय मसालों में हल्दी का एक अलग ही महत्व है प्राचीन काल से ही हल्दी को जड़ी बूटी के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है ।

हल्दी क्या है ?

हल्दी एक जड़ी-बूटी है । इसका इस्तेमाल मसालों के रुप में प्रमुखता से किया जाता है । हिंदू धर्म में पूजा में या कोई भी शुभ काम करते समय हल्दी का उपयोग किया जाता है । खाने के अलावा कई तरह की बीमारियों से बचाव में भी हल्दी का उपयोग होता है । इस समय पूरी दुनिया में हल्दी के गुणों पर रिसर्च चल रही है और कई रिसर्च आयुर्वेद में बताए गुणों कि पुष्टि करते हैं। हल्दी की कई प्रजातियाँ पाई जाती हैं, जिनमें मुख्य रूप से निम्नलिखित चार प्रजातियों का प्रयोग चिकित्सा में किया जाता है।

हल्दी के फायदे और सेवन का तरीका

हल्दी हमारे शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाती है जिस वजह से तमाम तरह की संक्रामक बीमारियों से बचाव होता है । हल्दी में वात कफ दोषों को कम करने वाले गुण होते हैं और यह शरीर में खून बढ़ाने में मदद करती है । डायबिटीज में हल्दी का सेवन बहुत ही उपयोगी माना जाता है । आइए जानते हैं कि हल्दी के सेवन से किन रोगों में आराम मिलता है और इसका सेवन किस तरह करना चाहिए ।

जुकाम में हल्दी के फायदे

हल्दी की तासीर गर्म होने की वजह से जुकाम में इसका सेवन करना फायदेमंद रहता है । हल्दी के धुंए को रात के समय सूंघने से जुकाम जल्दी ठीक होता है । हल्दी सूंघने के कुछ देर बाद तक पानी नहीं पीना चाहिए ।

सिर की फुंसियों से आराम दिलाती है हल्दी

गर्मी के मौसम में सिर में फुंसियां निकलना एक आम समस्या है। फुंसियों के कारण सिर में तेज खुजली और जलन होती है। इस समस्या से आराम पाने के लिए हल्दी और दारूहरिद्रा, भूनिम्ब, त्रिफला, नीम और चन्दन को पीसकर रोजाना सिर पर मालिश करें ।

आँखों के दर्द से आराम दिलाती है हल्दी

आँखों में दर्द होने पर या किसी तरह का संक्रमण होने पर हल्दी का प्रयोग करना फायदेमंद रहता है। 1 ग्राम हल्दी को 25 मिली पानी में उबालकर छान लें। छानने के बाद इसे आँखों में बार-बार डालने से आँखों के दर्द से आराम मिलता है। कंजक्टीवाइटिस होने पर भी आप इसी घरेलू उपाय की मदद से आराम पा सकते हैं । हल्दी का गुण आँखों के लिए बहुत ही उपयोगी होता है ।

कान बहने की समस्या में हल्दी से आराम

कान से गाढ़ा तरल निकलना एक समस्या है जिसे आम भाषा में लोग कान बहना कहते हैं। इससे आराम  पाने के लिए हल्दी को पानी में उबालकर, छान लें और उसे कान में डालें ।

पायरिया में हल्दी के फायदे  

सरसों का तेल, हल्दी मिलाकर सुबह-शाम मसूड़ों पर लगाकर अच्छी प्रकार मालिश करने तथा बाद में गर्म पानी से कुल्ले करने पर मसूड़ों  के सब प्रकार के रोग दूर हो जाते हैं । हल्दी का गुण पायरिया के लिए फायदेमंद होता है ।

गले की खराश में हल्दी से आराम

गले की खराश होने पर अजमोदा, हल्दी, यवक्षार और चित्रक इन सबके 2-5 ग्राम चूर्ण को एक चम्मच शहद के साथ सेवन करने से गले की खराश दूर होती है । खाँसी से आराम दिलाती है हल्दी हल्दी को भूनकर चूर्ण बना लें। 1-2 ग्राम हल्दी चूर्ण के शहद या घी के साथ मिलाकर खाने से खांसी में आराम मिलता है । पेट दर्द में हल्दी से आराम पेट दर्द होने पर भी हल्दी का सेवन करने से दर्द से जल्दी आराम मिलता है । 10 ग्राम हल्दी को 250 ml पानी में उबाल लें । पेट दर्द होने पर इसमें गुड़ मिलाकर थोड़ा-थोड़ा पियें ।

बवासीर में हल्दी के फायदे

खराब जीवनशैली और खराब खान-पान की वजह से अधिकांश लोग कब्ज के मरीज हो जाते हैं । कब्ज के कारण ही आगे चलकर बवासीर की समस्या होने लगती है। बवासीर से आराम पाने के लिए सेहुंड के दूध में 10 ग्राम हल्दी मिलाकर मस्सों में लगाएं। इसके अलावा सरसों के तेल में हल्दी चूर्ण को मिलाकर मस्सों पर लगाने से बवासीर में आराम मिलता है।

पीलिया से आराम दिलाती है हल्दी

पीलिया एक ऐसी समस्या है जिसका सही इलाज ना करवाने पर आगे चलकर यह बहुत गंभीर समस्या में बदल जाती है । छोटे बच्चों में यह समस्या ज्यादा होती है । पीलिया होने पर 6 ग्राम हल्दी चूर्ण को मठ्ठे में मिलाकर दिन में दो बार सेवन करने पर 4- 5 दिन में ही पीलिया से आराम मिल जाता है । इसके अलावा 5-10 ग्राम हल्दी चूर्ण में 50 ग्राम दही मिलाकर खाने से भी पीलिया में फायदा होता है । लौह भस्म, हरड़ और हल्दी इन तीनों को एक बराबर मात्रा में मिलाकर इसकी 375mg मात्रा में घी और शहद मिलाकर सेवन करने से पीलिया में लाभ होता है ।

डायबिटीज में हल्दी के फायदे  

2 से 5 ग्राम हल्दी चूर्ण में आंवला रस और शहद मिलाकर सुबह और शाम को खाना, डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है । इसके अलावा हल्दी, दारुहल्दी, तगर और वायविडंग का क्वाथ बनाकर उसकी 20-40 ml की मात्रा में 5-10 ग्राम शहद मिलाकर सुबह- शाम सेवन करने से डायबिटीज में फायदा होता है ।

स्तन संबंधी रोगों से हल्दी में फायदे  

स्तन से जुड़ी समस्याओं में भी हल्दी का उपयोग करना फायदेमंद रहता है ।  हल्दी और लोध्र को पानी में घिसकर स्तनों पर लेप करने से स्तन से जुड़े रोगों में लाभ होता है । प्रदर या ल्यूकोरिया में हल्दी के फायदे  हल्दी चूर्ण और गुग्गुल चूर्ण को एक बराबर मात्रा में मिलाकर इसकी 2-5 ग्राम मात्रा का सुबह-शाम सेवन करने ल्यूकोरिया में फायदा मिलता है । इसके अलावा 1-2 ग्राम हल्दी चूर्ण को 100 ml दूध में उबालकर उसमें गुड़ मिलाकर खाने से भी ल्यूकोरिया में फायदा पहुँचता है ।

कुष्ठ रोग में हल्दी के फायदे 

हल्दी के प्रयोग से कुष्ठ रोग के प्रभाव को भी कुछ हद तक कम किया जा सकता है । इसके लिए 1-2 ग्राम हल्दी चूर्ण में गोमूत्र मिलाकर पिएं । इसके अलावा हरिद्राचूर्ण में बराबर मात्रा में गुड़ मिलाकर गोमूत्र के साथ सेवन करने से दाद और कुष्ठ रोग में फायदा होता है ।

दाद खुजली में हल्दी के फायदे 

अगर आपकी त्वचा पर कहीं दाद खुजली हो गयी है तो हल्दी के इस्तेमाल से आप इन समस्याओं को जल्दी ठीक कर सकते हैं। इसके लिए खुजली वाली जगह पर हल्दी का लेप या हल्दी के साथ नीम की पत्तियों का लेप लगाएं ।

चर्म रोग में हल्दी के फायदे 

खुजली, दाद के अलावा चर्म रोग में भी हल्दी का प्रयोग करने से फायदा होता है । इसके लिए 2-5 ग्राम हल्दी चूर्ण को गोमूत्र में मिलाकर दिन में दो तीन बार सेवन करें । इसके अलावा हल्दी के चूर्ण में मक्खन मिलाकर चर्म रोग वाली जगह पर लगाने से भी फायदा होता है ।

सूजन से आराम दिलाती है हल्दी

शरीर के किसी हिस्से में अगर सूजन हो रही है तो हल्दी के उपयोग से आप सूजन कम कर सकते हैं । इसके लिए हल्दी, पिप्पली, पाठा, छोटी कटेरी, चित्रकमूल, सोंठ, पिप्पली, जीरा और मोथा को बराबर मात्रा में मिलाकर चूर्ण बना लें । इसे कपड़े से छान कर अलग रख लें। इस चूर्ण का 2-2 ग्राम की मात्रा गुनगुने जल के साथ मिलाकर खाने से सूजन में कमी आती है ।

बालों का झड़ना करें कम हल्दी के फायदे

बालों का झड़ने रोकने में हल्दी बहुत उपयोगी माना गया है । बालों के झड़ने का कारण पाचन का ख़राब होना होता  है, क्योंकि पाचन खराब होने से बालों की जड़ों तक उचित मात्रा में पोषण नहीं पहुँच पाता जिसकी वजह से बाल झड़ने लगते हैं। इसके अलावा कफ दोष की वृद्धि के कारण भी बालों का झड़ना देखा गया है । ऐसे में हल्दी में उष्ण और कफ का शमन करने का गुण होने के कारण यह आपके पाचन को स्वस्थ कर बालों के झड़ने से रोकती है ।

मुहाँसों से राहत दिलाने में हल्दी फायदेमंद

मुँहासों से छुटकारा पाने में भी हल्दी के फायदे देखे गए है । त्वचा में अधिक तेल की उत्पत्ति होने के कारण मुँहासे निकलने लगते हैं। ऐसे में हल्दी के रूक्ष गुण के कारण यह इस तेल को सोक कर मुँहासों को छुटकारा दिलाने में लाभ पहुंचाती है साथ ही त्वगदोषहर गुण होने के कारण त्वचा के रोगों को दूर रखने में भी उपयोगी होती है ।

घाव को ठीक करने में हल्दी के फायदे

हल्दी में रोपण एवं शोथहर गुण होने के कारण यह हर प्रकार के घाव को भरने एवं उसकी सूजन आदि को भी ठीक करने में सहयोगी होती है । मुंह के छालों को ठीक करने में लाभकारी हल्दी मुंह के छालों का होना पाचन क्रिया के खराब होने के कारण होता है । हल्दी में उष्ण गुण होने के कारण यह पाचकाग्नि को ठीक कर पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करती है, जिससे मुंह के छालों में आराम मिलता है साथ ही इसमें रोपण (हीलिंग) का भी गुण पाया जाता  है जो की मुंह के छालों को जल्द भरने में सहायक होती है ।

सूखी खाँसी में फायदेमंद हल्दी

खाँसी चाहे सूखी हो या बलगम वाली दोनों ही कफ दोष प्रकुपित होने के कारण होती है । हल्दी में कफ को संतुलित करने का गुण होता है जिसके कारण यह हर प्रकार की खांसी में लाभदायक होती है ।

जोड़ों के दर्द से दिलाये राहत हल्दी

जोड़ों में होने वाले दर्द एवं सूजन में भी हल्दी बहुत फायदेमंद हो सकती है क्योंकि इसमें उष्ण एवं शोथहर गुण होते है । इसके सेवन से ये अपनी गर्माहट के कारण दर्द से जल्दी आराम दिलाने में मदद करती है ।

पेट के कीड़े से राहत दिलाने  में फायदेमंद हल्दी

पेट के कीड़े भी पाचन तंत्र के खराब होने के कारण होती है । हल्दी पाचक एवं कृमिघ्न गुण होने के कारण यह पेट के कीड़ों से भी राहत दिलाती है ।

पेट में गैस के लिए हल्दी के फायदे

पेट में गैस आदि परेशानियाँ भी पाचकाग्नि के मंद पड़ जाने के कारण होती है जो पाचन तंत्र को भी बिगाड़ देती है । हल्दी में उष्ण गुण होने के कारण यह पाचकाग्नि को बढ़ा कर पाचन तंत्र को स्वस्थ करने में मदद करती है, जिससे गैस की समस्या से छुटकारा मिलता है ।

खून की कमी के लिए हल्दी के फायदे

खून की कमी ये एनीमिया की स्थिति में भी हल्दी के फायदे देखे गए है । एक रिसर्च के अनुसार हल्दी एंटी ऑक्सीडेंट और हिपेटो प्रोटेक्टिव होने के कारण यह एनीमिया में लाभदायक होती है साथ ही आयुर्वेद के अनुसार हल्दी में पाण्डुहर गुण होने के कारण यह पाण्डु यानि एनीमिया की स्थिति में लाभदायक होती है एवं खून बढ़ाने में मदद करती है ।

पेट के अल्सर के लिए हल्दी के फायदे

पेट में अल्सर जैसी समस्या भी कहीं न कहीं पाचन का खराब होना ही माना गया है । हल्दी में पाचक और शोथहर होने के साथ इसमें रोपण (हीलिंग) का भी  गुण होने के कारण ये पेट के अल्सर से छुटकारा दिलाती है ।

कैंसर के लिए हल्दी के फायदे

एक रिसर्च के अनुसार हल्दी में एंटीकैंसर गुण पाए जाने कारण यह कैंसर जैसी गंभीर समस्याओं में भी लाभदायक साबित हो सकती है ।

खून में शुगर की मात्रा करें कम 

खून में शुगर  की मात्रा का बढ़ना यानी डायबिटीज का होना । इस अवस्था में भी हल्दी लाभदायक होती है क्योंकि डायबिटीज होने का एक कारण पाचन का खराब होना माना गया है, जिससे मेटाबॉलिज्म धीमा पड़ जाता है साथ ही इस स्थिति में कफ दोष भी बढ़ जाता है । हल्दी में पाचक गुण होने के कारण यह पाचन को स्वस्थ बनाती है और मेटाबोलिज्म ठीक करती है । साथ ही कफ शामक होने के कारण यह डायबिटीज के लक्षणों को कम करने में मदद करती है ।

हल्दी की सामान्य ख़ुराक

आमतौर पर 1-2 ग्राम हल्दी का रोजाना सेवन करना सेहत के लिए उपयुक्त है । अगर आप किसी ख़ास बीमारी के लिए हल्दी का उपयोग करना चाहते हैं तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह के अनुसार करें ।

हल्दी के सेवन से इम्यूनिटी बढ़ती है

विशेषज्ञों के अनुसार हल्दी का सेवन इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है । सर्दियों के मौसम में या फिर मौसम में बदलाव के दौरान अकसर हम लोग जल्दी -जल्दी बीमार पड़ जाते है और हमें ठीक होने में भी समय लगता है । वास्तव में इम्यूनिटी का कमजोर होना ही इसका मुख्य कारण है। इसलिए सर्दियों के मौसम में या मौसम में बदलाव के दौरान अपने खान-पान में हल्दी ज़रूर शामिल करें।

हल्दी दूध पीना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है

हल्दी अपने आप में कई गुणों से भरपूर है और जब आप इसका सेवन दूध में मिलाकर करते हैं तो इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते हैं । हल्दी वाला दूध बनाना भी बहुत आसान है । एक गिलास दूध में एक चुटकी हल्दी डालकर अच्छे से उबाल लें और फिर गुनगुना होने पर इसका सेवन करें ।

हल्दी मिश्रित दूध को गोल्डन मिल्क कहा जाता है सर्दी-जुकाम से आराम पाने का यह अचूक उपाय है इसके अलावा शरीर में दर्द होने पर या ठंड लगने पर इसका सेवन करना बहुत उपयोगी होता है । सर्दियों के मौसम में हल्दी का सेवन करना चाहिए सर्दी का मौसम आते है कई प्रकार के रोग होना शुरू हो जाते है। चाहे वह सर्दी-जुकाम हो या फिर जोड़ों का दर्द । यह सभी समस्याएं सर्दी के मौसम को कई लोगों के लिए दुखदायी बना देती हैं।

आयुर्वेद के अनुसार हल्दी के सेवन से आप इन रोगों को कुछ हद तक घर पर ही ठीक कर सकते है । इसलिए सर्दियों के मौसम में आयुर्वेदिक चिकित्सक भी हल्दी के सेवन की सलाह देते हैं | इस बात का ध्यान रखें कि जरूरत से ज्यादा मात्रा में हल्दी का सेवन करना नुकसानदायक भी हो सकता है इसलिए सर्दी या गर्मी कोई भी मौसम हो हल्दी का सेवन हमेशा सीमित मात्रा में ही करें ।

अस्थमा के मरीजों के लिए हल्दी का सेवन फायदेमंद होता है

फेफड़ों के रोगों में हल्दी का सेवन फायदेमंद होता है जैसे अस्थमा की समस्या। हल्दी, अस्थमा में जमे हुए कफ को दूर करने में मदद करती है जिससे अस्थमा के लक्षणों में कमी होने लगती है । इसीलिए अस्थमा के मरीजों को हल्दी के सेवन की सलाह दी जाती है ।

अगर आप अस्थमा के मरीज हैं तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह के अनुसार हल्दी का नियमित सेवन करें। दवाइयों का कम सेवन करके हमें घर पर जड़ी-बूटियों से अपना इलाज करने की कोशिश करनी चाहिए।

अब हम हल्दी के फायदे जान चुके है, इसलिए हम इसका आसानी से प्रयोग कर सकते है और साथ ही दूसरों को इसके फायदों के बारे में बता सकते है ।

Disclaimer
ये सारे उपाय इंटरनेट पर उपलब्ध तथा विभिन्न पुस्तकों में उलब्ध जानकारियों के आधार पर तैयार किए गए हैं। कोई भी उपाय करते समय अपने चिकित्सक के परामर्श अवश्य ले लें। इन्हें आम घरेलु उपायों की तरह ही लें। इन्हें किसी गंभीर रोग के उपचार की सटीक औषधि न समझें।

नई पोस्ट की अपडेट पाने को Follow us on X.com (twitter) https://twitter.com/Mindians_In

नई पोस्ट की अपडेट पाने को Follow us on WhatsApp Channel https://whatsapp.com/channel/Mindians.in


इलायची के फायदे और उपयोग – छोटे मसाले के बड़े फायदे

WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles