Sunday, March 3, 2024

सावधान! एसएमएस या व्हाट्सएप पर भेजे गए लिंक पर क्लिक करने से आपका बैंक अकाउंट खाली हो सकता है। कई तरह के तरीके अपना रहे फ्रॉड लोग।

दिनों-दिन तकनीक के बढ़ते प्रचलन के कारण हर व्यक्ति तकनीक से जुड़ता जा रहा है और हर काम डिजिटल माध्यम से करने लगा है। इस कारण ऑनलाइन फ्रॉड (Online Fraud) की मामले भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

ऑनलाइन पेमेंट करना मोबाइल वॉलेट का उसे करना यूपीआई का माध्यम से पेमेंट करना आदि और हर व्यक्ति के लिए आम हो चुका है। अब लोग पर्स में कैश मनी नहीं रखते बल्कि छोटे से छोटा पेमेंट भी यूपीआई या मोबाइल वॉलेट के माध्यम से करने लगे हैं। इसीलिए फ्रॉड लोगों ने फ्रॉड करने के लिए नए-नए तरीके निकाल लिए हैं। इन नए-नए तरीकों के माध्यम से वह व्यक्तियों को चूना लगा रहे हैं। ऐसे में यूजर को एक्स्ट्रा केयरफुल होना पड़ता है, नहीं तो यदि जरा सी चूक के कारण पूरा का पूरा बैंक अकाउंट भी खाली हो सकता है। ऐसे ही कुछ ऑनलाइन फ्रॉड के तरीके जो लोगों ने ईजाद इस प्रकार हैं।

एसएमएस अथवा व्हाट्सएप लिंक द्वारा फ्रॉड

अक्सर किसी को SMS के द्वारा कोई लिंक भेजा जाता है अथवा व्हाट्सएप के द्वारा कोई लिंक भेजा जाता है। जैसे ही व्यक्ति उत्सुकतावश पर उस लिंक पर क्लिक करता है। वह सीधे अपने यूपीआई एप पर रीडायरेक्ट हो जाता है। अब व्यक्ति यूपीआई पर रीडायरेक्ट हुआ है, तो वह अपना यूपीआई पिन तो डालता ही है। वह हैकर्स द्वारा भेजा गया स्पैम लिंक होता है। यूपीआई पर रीडायरेक्ट होने पर और यदि आप एप ओपन करते ही आपकी सारी यूपीआई डीटेल्स स्कैमर्स के पास पहुंच जाती हैं और चंद सेकंड में आपका पूरा का पूरा अकाउंट खाली हो जाता है।

Quickr, Olx, e-bay जैसी पुराने सामान बेचने वाली वेबसाइटों द्वारा ठगी।

स्कैमर्स ने लोगों को ठगने का यह नया तरीका निकाला है। Quickr, OLX, e-bay जैसी पुराने सामान बेचने वाली वेबसाइट भी आजकल ठगी का माध्यम बन गई है। इन वेबसाइटों पर अनेक स्कैमर्स की भरमार है। जब कोई व्यक्ति अपना कोई प्रोडक्ट बेचने के लिए इस वेबसाइट पर डालता है, तो स्कैमर्स उस व्यक्ति को कॉल करता हैं और उसका प्रोडक्ट खरीदने की बात करता हैं और आपको विश्वास में लेकर आपके पास एक लिंक भेजता हैं। क्योंकि आपका प्रोडक्ट बिक रहा है इसलिए आपको अपना फायदा जानकर आप गलती में उसे लिंक पर क्लिक कर देते हैं। जैसे ही लिंक पर क्लिक करते हैं। आपकी सारी आपका यूपीआई आईडी स्कैमर्स द्वारा हैक कर ली जाती है।

इस तरह के फ्रॉड से कैसे बचें?

  • इस तरह के फ्रॉड से बचने के लिए चाहिए कि यदि SMS पर या WhatsApp आदि पर कोई भी लिंक अनजान व्यक्ति की तरफ से भेजा जाए तो भूल कर भी इस पर कभी क्लिक न करें।
  • किसी लिंक पर क्लिक करने पर यदि यूपीआई पर रीडायरेक्ट हो रहे हैं तो कभी भी यूपीआई का पिन एंटर ना करें, ना ही किसी व्यक्ति को अपना यूपीआई का पिन शेयर करें।
  • कोई व्यक्ति यदि बैंक का प्रतिनिधि बनकर आपसे कॉल करके आपको विश्वास में लेकर आपके पिन या बैंक की डिटेल्स लेने का प्रयास करता है तो किसी को भी अपने बैंक की जानकारी शेयर ना करें। बैंक के द्वारा कभी भी पर्सनल जानकारी के लिए फोन नहीं किया जाता।
  • ध्यान रहे यदि आपको किसी को पेमेंट करना है तो आपको अपना यूपीआई स्वयं ओपन करके ही पेमेंट करना होता है। कोई लिंक भेजे और उसे लिंक पर क्लिक करके कोई पेमेंट नहीं होता। यदि कोई व्यक्ति ऐसा कहता है कि मैं लिंक भेजा हूं आप उसे लिंक पर क्लिक करके पेमेंट कर दें तो आप तुरंत समझ जाएं वह स्पैम लिंक हो सकता है।
  • पेमेंट करने के लिए केवल व्यक्ति की यूपीआई आईडी डालनी होती है, जो कि उस पेमेंट एप में डालनी होती है। किसी का भी पेमेंट करने के लिए लिंक की जरूरत नही बल्कि उस व्यक्ति की यूपीआई आईडी की जरूरत होती है।
  • ऐसे कई फोन ऐप आने लगे हैं जो फोन की स्क्रीन शेयर करने का ऑप्शन प्रदान कर रहे हैं। यदि कोई आपकी किसी समस्या के लिए फोन स्क्रीन शेयर करने को मांग रहा है, तो अपने फोन की स्क्रीन कभी भी किसी के साथ शेयर ना करें।

ये भी पढ़ें..

UPI के माध्यम अलग-अलग एप्स द्वारा एक दिन में कितना ट्रांसेक्शन कर सकते हैं, लिमिट जानें।

WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles