Thursday, April 25, 2024

भारत के बड़े नेताओं की शिक्षा जान लें कि कौन कितना पढ़ा है?

भारत के बड़े-बड़े राजनेताओं में कौन कितना पढ़ा-लिखा है, (Indian politicians education) आइए जानते है…

शिक्षा का महत्व हम सभी जानते हैं। शिक्षा व्यक्ति को समझदार और विचारशील बनाती है। एक शिक्षित व्यक्ति किसी भी क्षेत्र में जितना अधिक कुशलता और तेजी से प्रगति कर सकता है, वह एक अशिक्षित व्यक्ति नहीं कर सकता। लेकिन यह एक सार्वभौमिक सत्य नहीं है।

इस संसार में ऐसे बहुत उदाहरण हैं जो कम पढ़े लिखे होने के बावजूद भी बड़े-बड़े कार्य करने में सक्षम हो पाए। जो ऊंचे-ऊंचे पदों पर पहुंचे। लेकिन इससे शिक्षा का महत्व कम नहीं हो जाता। शिक्षा कार्य को आसान बनाती है। भारतीय नेताओं के संदर्भ में भी यही बात लागू होती है।

हम अक्सर सोशल मीडिया पर या दूसरे मीडिया माध्यमों में अखबार, रेडियो, टीवी चैनल, पत्र-पत्रिकाओं के माध्यम से यह पढ़ते-सुनते-देखते रहते हैं कि अमुक नेता की शिक्षा के विषय में चर्चा हो रही है। किसी एक पार्टी के नेता की कम शिक्षा का मजाक विपक्षी पार्टी के लोग उड़ाते हैं। उसी तरह राजनीतिक पार्टियां दूसरी पार्टी के नेताओं के कम शिक्षित नेताओं का मजाक भी उढ़ाती हैं।

सोशल मीडिया पर भी इस तरह की बात चलती रहती हैं। पिछले कई वर्षों से वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शिक्षा के विषय में अनेक बार जब-तब चर्चा चलती रही है और उनकी शिक्षा को आधार बनाकर विपक्षी पार्टियों उन पर सवाल उठाती रही है और उनका मजाक उड़ाती रही हैं।

ऐसे में लोगों के मन में यह प्रश्न उठता है कि और हमारे भारतीय नेताओं की शिक्षा कितनी है? कौन नेता कितना पढ़ा लिखा हुआ है? आइए भारत की कुछ राजनीतिक पार्टियों के कुछ वर्तमान नेताओं तथा कुछ पिछले दिवंगत नेताओं की शिक्षाओं के बारे में जानते हैं ताकि ये पता चल सके हमारे देश भारत की बागडोर जिनके हाथ में पहले थी या अब है वह कितना पढ़ा-लिखे हैं?

नरेंद्र मोदी

सबसे ज्यादा सवाल प्रधानमंत्री वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शिक्षा दीक्षा पर अक्सर उठते रहे हैं। नरेंद्र मोदी अपने अनेकों इंटरव्यू में स्वीकार कर चुके हैं कि अपनी पारिवारिक स्थिति के कारणों की शिक्षा-दीक्षा बहुत अधिक नहीं हो पाई।

नरेंद्र मोदी की शिक्षा की बात की जाए तो नरेंद्र मोदी ने अपनी चुनावी हलफनामे में अपनी शिक्षा के बारे में बताया है कि उन्होंने 1967 में हाई स्कूल की परीक्षा गुजरात से पास की थी। उसके बाद वह कई साल दिल्ली में भी रहे और वहीं पर उन्होंने पत्राचार के माध्यम से दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री 1978 में प्राप्त की। उनका दिल्ली और गुजरात आना जाना लगा रहता था। इसी क्रम से उन्होने उन्होंने गुजरात यूनिवर्सिटी से 1983 में एम.ए. की शिक्षा भी पत्राचार के माध्यम से की है। उन्होंने स्वयं कई बार कहा है कि उनकी पढ़ाई-लिखाई कोई विधिवत् रूप से नही हो पाई है। वह केवल 10वीं तक विधिवत स्कूल गए। उसके बाद उन्होंने जो भी बी.ए. और एम.ए. की डिग्री लीं है, वो पत्राचार के माध्यम से ली हैं।

नरेंद्र मोदी की शिक्षा

  • 10वीं – 1967 (स्कूल जाकर)
  • बी.ए. – 1978 (दिल्ली विश्वविद्यालय – पत्राचार)
  • एम.ए. – 1983 (गुजरात विश्वविद्यालय – पत्राचार)

राहुल गांधी

राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी के एक प्रमुख नेता है और कांग्रेस पार्टी के प्रमुख घराने गांधी परिवार से संबंध रखते हैं। उनके नाना जवाहरलाल नेहरू, उनकी दादी इंदिरा गांधी और पिताजी राजीव गांधी तीनों ही देश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री रह चुके हैं। हाइ प्रोफाइल परिवार से संबंधित होने के कारण राहुल गांधी की शिक्षा कम हुई हो, ऐसा संभव नहीं।

राहुल गांधी की शिक्षा की बात की जाए तो उनका जन्म दिल्ली में हुआ और उनकी आरंभिक शिक्षा दीक्षा दिल्ली के सेंट कोलंबस स्कूल में हुई। उसके बाद उन्होंने देहरादून के प्रतिष्ठित ‘द दून स्कूल’ में अपनी आगे की शिक्षा पूरी की। इसी बीच उनकी दादी इंदिरा गांधी की 1984 में और पिता राजीव गांधी की हत्या 1991 में हो गई। वे बाद में सुरक्षा कारणों से भारत से बाहर पढ़ने चले गए। सुरक्षा कारणों उन्होंने विदेश में अपनी आगे की पढ़ाई ‘राउल विंची (Raul Vinci) के नाम से पूरी की। राहुल गांधी ने अमेरिका के हार्वर्ड विश्वविद्यालय के रोलिंस कॉलेज (फ्लोरिडा) से 1994 में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की है। उन्होंने 1995 में लंदन के कैंब्रिज विश्वविद्यालय के ट्रिनिट कॉलेज से मास्टर ऑफ फिलॉसफी (M. Ph) की है।

राहुल गांधी की शिक्षा

  • आरंभिक पढ़ाई – 10वीं-12वीं – सेंट कोलबंस स्कूल, दिल्ली एवम् द दून स्कूल, देहरादून
  • ग्रेजुएशन – 1994 (रोलिंस कॉलेज, फ्लोरिडा, हार्वर्ड विश्विद्यालय, अमेरिका)
  • मास्टर ऑफ फिलॉसफी – 1995 (ट्रिनिटी कॉलेज, कैंब्रिज विश्वविद्यालय, लंदन, इंग्लैंड)

अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल आम आदमी पार्टी के एक प्रमुख नेता है, जो आम आदमी पार्टी के संस्थापक भी हैं। वह 2012 से राजनीति में सक्रिय हैं। उससे पहले वह एक आईआरएस ऑफिसर थे, इससे उनके उच्च शिक्षित होने का पता चलता है।

अरविंद केजरीवाल का जन्म 1968 में हरियाणा के हिसार शहर में हुआ था। उनकी शिक्षा की बात की जाए तो उनकी आरंभिक शिक्षा दीक्षा हरियाणा के हिसा में ही हुई। बाद में उन्होंने 1989 में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त की। उसके बाद वो भारतीय राजस्व सेवा (IRS) में भर्ती हो गए।

अरविंद केजरीवाल की शिक्षा

  • आरंभिक शिक्षा-दीक्षा – कैंपस स्कूल, हिसार (हरियाणा)
  • 10-12वीं – क्रिश्चियन मिशनरी स्कूल, सोनीपत (हरियाणा)
  • स्नातक (मैकेनिकल इंजीनियरिंग) 1989 – आईआईटी, खड्गपुर

अमित शाह

अमित शाह भारतीय जनता पार्टी के एक कद्दावर नेता हैं और वर्तमान सरकार में गृहमंत्री है। वह भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। अमित शाह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह ही गुजराती  है।  उनका जन्म 22 अक्टूबर 1964 को मुंबई में हुआ था। वह मूल रूप से गुजरात के एक धनी परिवार से संबंध रखते हैं।

अमित शाह की शिक्षा की बात की जाए तो उनकी आरंभिक शिक्षा-दीक्षा 16 साल की आयु तक गुजरात के अहमदाबाद जिले के माणसा गाँव में हुई। ये गाँव अमित शाह का पुश्तैनी गाँव था। उसके बाद उनका परिवार अहमदाबाद शहर में बस गया यहीं पर उन्होंने अहमदाबाद के ‘सी. यू. शाह विज्ञान महाविद्यालय’ से जैव रसायन (बायोकेमिस्ट्री) में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की। इस तरह अमित शाह साइंस स्ट्रीम में जैव रसायन विषय के साथ ग्रेजुएट हैं।

अमित शाह की शिक्षा

  • आरंभिक शिक्षा – माणसा (अहमदाबाद), गुजरात
  • 10-12वीं : माणसा (अहमदाबाद), गुजरात
  • ग्रेजुएशन (B.Sc) 1983 : बायोकेमिस्ट्री (जैवरसायन), सी. यू. शाह कॉलेज ऑफ साइंस, अहमदाबाद, गुजरात

योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ बीजेपी के फायरब्रांड नेता है और उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। वह भी भारतीय जनता पार्टी के सबसे लोकप्रिय नेताओं में से एक हैं, जिनकी पूरे देश में बेहद लोकप्रियता है। उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री होने के साथ-साथ एक सन्यासी भी हैं और गोरखपुर मठ के मठाधीश भी हैं। सन्यासी होने के कारण अक्सर लोगों के मन में यह प्रश्न उठता हो कि वह शायद कम पढ़े लिखे होंगे, लेकिन ऐसा नहीं है

योगी आदित्यनाथ एक उच्च शिक्षित व्यक्ति हैं। योगी आदित्यनाथ का जन्म उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल के पंचूर गाँव में 7 जून 1970 को हुआ था। उनकी शिक्षा की बात की जाए तो उनकी आरंभिक शिक्षा उत्तराखंड के टिहरी के गजा नामक गांव के स्थानीय स्कूल में हुई। इसी स्कूल से उन्होंने 1987 में दसवीं कक्षा पास की। उसके बाद वह 1989 में उन्होंने ऋषिकेश स्थित श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज से बारहवीं परीक्षा पास की। उसके बाद उन्होंने 1992 में श्रीनगर के हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से गणित में ग्रेजुएशन की उपाधि प्राप्त की है। इस तरह योगी आदित्यनाथ कम पढ़े लिखे लेता नहीं बल्कि उच्च शिक्षित नेता हैं।

योगी आदित्यनाथ की शिक्षा

  • 10वीं (1987) – गजा (टिहरी) उत्तराखंड
  • 12वीं (1989) – श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज, ऋषिकेश (उत्तराखंड)
  • ग्रेजुएशन (B.Sc. – Math) (1992) – हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर (उत्तराखंड)

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के एक प्रमुख नेता हैं। वह उत्तर के भूतपूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह के पुत्र हैं, वह स्वयं भी 2012-1017 के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं।

अखिलेश यादव की पढ़ाई लिखाई की बात की जाए तो अखिलेश यादव ने अपनी आरंभिक शिक्षा अपने मूल पुश्तैनी गांव सैफई में प्राप्त की, उसके बाद उनकी आगे की पढ़ाई धौलपुर मिलिट्री स्कूल, धौलपुर, राजस्थान में हुई। उन्होंने कर्नाटक के मैसूर में स्थित मैसूर विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त की। बाद में वह ऑस्ट्रेलिया में उच्च शिक्षा प्राप्त करने चले गए और वहां उन्होंने सिविल पर्यावरण इंजीनियरिंग में मास्टर की डिग्री प्राप्त की। इस तरह वह भी एक उच्च शिक्षित नेता हैं।

अखिलेश यादव की शिक्षा

  • आरंभिक शिक्षा – सेंट मेरी स्कूल, इटावा (उत्तर प्रदेश)
  • 10वीं-12वीं : धौलपुर मिलिट्री स्कूल, धौलपुर (राजस्थान)
  • ग्रेजुएशन डिग्री : मैसूर विश्वविद्यालय, मैसूर (कर्नाटक)
  • पोस्ट ग्रेजुएशन (सिविल इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री) – सिडनी विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया

सोनिया गाँधी

सोनिया गांधी कांग्रेस पार्टी की एक प्रमुख राजनेता है, जो भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पत्नी है। उनके पति और सास और उनके नाना ससुर भारत के प्रधानमंत्री रह चुके हैं। वह मूल रूप से इटली में जन्मी एक विदेशी मूल की महिला हैं, जिनका असली नाम  एंटोनिया एडविजे अल्बिना मायनो है। उनका जन्म 9 दिसंबर 1946 को इटली में लुसियाना प्रांत के वेनेटो में हुआ।

सोनिया गांधी की शिक्षा की बात की जाए तो वह बहुत अधिक शिक्षित नहीं हैं। उनकी आरंभिक शिक्षा दीक्षा इटली के वेसांजे नामक कस्बे के एक रोमन कैथोलिक स्कूल में हुई। 1964 में लंदन में इंग्लिश भाषा सीखने के उद्देश्य से कैंब्रिज विश्वविद्याालय चली आईं जहाँ उन्होंने भाषा का अथ्ययन किया और यहीं पर उनकी मुलाकात राजीव गाँधी से हुई। 1968 में राजीव गाँधी से विवाह के बाद वह भारत चली आईं।

सोनिया गाँधी की शिक्षा

10-12वीं – स्थानीय रोमन कैथोलिक विद्यालय, वेसांजे, लुसियाना (इटली)

तो इस तरह यहाँ पर कुछ बड़े भारतीय राजनेताओं की शिक्षा की जानकारी मिली। अभी बहुत से बड़े नेता बाकी हैं, जिनकी शिक्षा की जानकारी भी इस पोस्ट में आगे अपडेट की जाएगी।

Indian politician’s education


ये भी पढ़ें…
WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles