Thursday, April 25, 2024

दुनिया के वे जीव जो कभी नही सोते।

सोना सभी प्राणियों के लिए जरूरी है। चाहे, वह मनुष्य हो पशु पक्षी हो या कोई भी अन्य जानवर हो, सबके लिए सोना आवश्यक होता है यह बात हम सब जानते हैं। लेकिन ऐसा हर किसी के लिए आवश्यक नहीं यह दुनिया अलग-अलग तरह के रहस्यों से भरी हुई है, यहां पर प्रकृति में अनेक तरह के कमाल दिखते हैं।

इस संसार में ऐसे अनेक जीव जंतु भी हैं जो अपने जीवन काल में कभी नहीं सोते (Animals that never sleep) और पूरी जिंदगी बिना सोए गुजार देते हैं। ऐसे ही जीव-जंतुओं का नाम जानते हैं…

जीव-जंतु को कभी नही सोते (Animals that never sleep)

डॉल्फिन (Dolphin)

डॉल्फिन एक ऐसी मछली है जो अपने जीवन काल में कभी नहीं सोती। यह लगातार पानी में तैरती रहती है, केवल कुछ समय के लिए अपने दिमाग को आराम देती है। उस आराम की अवस्था में ये सक्रिय रहती है। ये मछली कभी पूरी नींद नही लेती।

तितली (Butter Fly)

तितली एक छोटी सा सुंदर जीव होता है, जो अपने रंग-बिरंगे पंखों के कारण बेहद प्रसिद्ध है। तितली अपनी सुंदरता के कारण हर किसी के मन को भाती है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि तितली अपने जीवन काल में कभी भी नहीं सोती।

रिसर्च से पता चला है कि तितली कभी भी नींद नहीं लेती। केवल आराम करने के लिए कुछ पल के लिए आँख बंद करके बेहोश हो जाती हैं। इसके लिए वह एक खास जगह को सुनती हैं। यह उनकी नींद लेने की प्रक्रिया नहीं होती बल्कि यह कुछ पल के लिए आराम करती हैं। इस दौरान उनके शरीर का तापमान और उनके दिल की धड़कन भी बेहद कम हो जाती है। इस तरह तितली अपने पूरे जीवन में कभी भी नहीं सोती।

ब्लू फिश (Blue Fish)

ब्लू फिश अटलांटिक महासागर में पाई जाने वाली एक मछली होती है। यह मछली भी अपने जीवन काल में कभी नहीं सोती। यह मछली सोने जैसी अवस्था में कुछ पल के लिए चली जाती है, लेकिन पूरी तरह नींद नहीं लेती।

अल्पाइन स्विफ्ट (Alpine Swift)

अल्पाइन स्विफ्ट एक विशेष प्रकार की चिड़िया है जो इसके बारे में कहा जाता है कि यह बिना धरती पर उतरे लगातार 200 दिन तक उड़ सकती है लेकिन यह चिड़िया भी पूरी तरह कभी नहीं सोई बल्कि हवा में ही कुछ क्षण के लिए जबकि मार्ग लेती है यह पूरी नींद कभी नहीं लेती

फ्रूट फ्लाई (Fruit Fly)

फ्रूट फ्लाई एक विशेष प्रकार की मक्खी होती है, जिसे फल मक्खी भी कहा जाता है। यह मक्खी आम को बहुत अधिक नुकसान पहुंचती है। भारत में यह मक्खी बहुत पाई जाती है। खासकर उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में यह मक्खी बहुत पाई जाती है। यह मक्खी भी नींद नहीं लेती, केवल कुछ समय के लिए नींद जैसी अवस्था में पहुंच जाती है।

जेलीफिश (Jelly Fish)

जेलीफिश ऐसी मछली है, जो कभी नहीं सोती। यह भी कुछ क्षण के लिए आराम जैसी अवस्था में पहुंच जाती है। जिस दौरान उसका शरीर शिथिल पड़ जाता है, लेकिन ऐसी स्थिति में भी वह एक्टिव रहती है और पानी में हलचल करती रहती है। यह मछली भी कभी पूरी तरह नहीं सोती।

बुलफ्रॉग (Bull Frog)

बुलडॉग एक विशेष प्रकार का मेंढक होता है जो अपने जीवन काल में कभी नहीं सोता इसके शरीर में एंटी फ्रीजिंग सिस्टम होता है, इसके कारण यह बर्फ में जम भी जाए तो भी जिंदा रह जाता है

ग्रेट फ्रीगेट बर्ड (Great frigate bird)

ग्रेट फ्रीगेट बर्ड एक विशेष प्रकार की चिड़िया होती है। यह चिड़िया भी अल्पाइन स्विफ्ट नाम की चिड़िया की तरह आसमान में लगातार कई दिनों तक उड़ सकती है। इसके बारे में कहा जाता है यह लगातार 2 महीने तक बिना रुके आसमान में उड़ सकती है। यह भी यह चिड़िया भी कभी नहीं सोती और आसमान में उड़ने ही कुछ क्षणों के लिए झपकी ले लेती है।

तिलापिया (Tilapia)

तिलापिया नाम की यह मछली एक विशेष प्रकार की मछली होती है। यह मछली अपने जीवन काल में शुरुआती समय में बिल्कुल भी नहीं सोती। उम्र बढ़ाने के साथ-साथ जब यह बूढ़ी होने लगती है तो थोड़ी बहुत नींद लेनी लगती हैं, नहीं तो अपने युवावस्था में यह मछली जरा भी नहीं सोती।

ऑरका (Orca)

ऑरका नाम की विशेष मछली की विशेषता यह होती है कि यह पूरी तरह कभी नहीं सोती। यह अपने शरीर के एक हिस्से को एक्टिव रखती है तथा दूसरे हिस्से को आराम देती है। इस दौरान वह अपनी एक आँख खोलकर दूसरी को बंद रखती है और धीरे-धीरे तैरती रहती है। इस तरह यह मछली भी पूरी तरह कभी नहीं सोती।


ये भी पढ़ें…
WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles