Sunday, June 16, 2024

बाथरूम और वॉशरूम के बीच अंतर को समझें।

सामान्य बोलचाल की भाषा में बाथरूम और वाशरूम का बहुत उपयोग करते हैं। अक्सर बाथरूम और वाशरूम (Bathroom Vs Washroom) के बीच के अंतर को नही समझ पातें, आइए बाथरूम और वाशरूम के बीच के अंतर को जानते हैं…

बाथरूम और वॉशरूम दोनों शब्द हर किसी के जीवन में रोजमर्रा के जीवन में बोले जाने वाले शब्द हैं। बाथरूम और वॉशरूम दे ऐसी जगह हैं, जिसकी हर व्यक्ति को जरूरत पड़ती है। कहने को तो दोनों शब्द अंग्रेजी के हैं, लेकिन अब यह हिंदी भाषा में भी ये शब्द कॉमन शब्द हो गए हैं।

बाथरूम शब्द तो हम सब अनेक वर्षों से सुनते आ रहे हैं, लेकिन लगभग 15-20 वर्षों से वॉशरूम शब्द का भी प्रचलन हो गया है। नहीं तो पहले वॉशरूम शब्द इतना कॉमन शब्द नहीं था।

अक्सर लोग बाथरूम और वॉशरूम को एक ही समझ लेते हैं और बाथरूम की जगह वॉशरूम तथा वॉशरूम की जगह बाथरूम शब्द को भी बोल देते हैं। लेकिन यह जानने वाली बात है कि दोनों शब्दों का अर्थ अलग है। दोनों शब्द अलग-अलग जगह के लिए प्रयोग किए जाते हैं। इन दोनों शब्दों के बीच अंतर (Bathroom Vs Washroom) को जानते हैं।

बाथरूम क्या है? (What is Bathroom?)

बाथरूम, जैसा कि नाम से ही स्पष्ट होता है, नहाने की जगह। अर्थात वह जगह जहाँ पर हम सभी नहाते हैं। बाथरूम शब्द हमारी जिंदगी में हम और उन सब से ही सुनते आए हैं। बाथरूम शब्द का मतलब सब यही जानते थे कि जगह नहाने की जगह। सभी बाथरूम शब्द का प्रयोग नहाने के जगह के लिए वर्षों के करते रहे हैं।

हिंदी भाषा में अंग्रेजी के कुछ शब्दों का अपना अलग अर्थ भी विकसित कर लिया और शब्द के अर्थ का देसी अवतार भी बना दिया। इसी कारण हिंदी भाषा और अन्य भारतीय भाषाओं में ‘बाथरूम’ शब्द पेशाब करने से संदर्भ में भी आम जनता प्रयोग करने लगी। जिस किसी को पेशाब लगी होती वो बोलता है कि मुझे बाथरूम लगी है या बाथरूम करने जाना है।

इस तरह बाथरूम शब्द प्रयोग इस संदर्भ में ऐसे लोगों के बीच अधिक होने लगा जो आमजन थे और अंग्रेजी में निपुण नही होते थे।

बाथरूम का सही अर्थ क्या है?

‘बाथरूम’ यानि वह जगह जहाँ पर नहाने की सुविधा होती है। वह छोटा सा कमरा, जहाँ पर नहाने के लिए बाल्टी हो, या फव्वारा (शॉवर) लगा हो, नहाने के लिए नल लगा हो, या बाथटब हो या वॉशबेसिन होता है।

किसी भी इमारत में वह छोटा सा कमरा जहाँ पर नहाया जा सकता हो, वो बाथरूम है। बाथरूम में जरूरी नही कि टॉयलेट सीट भी हो, या यूरिन करने की व्यवस्था हो। लेकिन बाथरूम में नहाने की सुविधा जरूर होती है।

बाथरूम लिंग यानि जेंडर पर आधारित नही होते। सामान्यतः बाथरूम घरों या निजी इमारतों में ही पाये जाते हैं, अथवा होटलों में या ठहरने की जगह पर होते हैं। आमतौर पर बाथरूम सभी के कॉमन प्रयोग के लिए होते हैं।

वॉशरूम क्या है? (What is Washroom?)

वॉशरूम, यह शब्द हमारे जीवन में 15-20 वर्षों से प्रचलन में आया है। पश्चिम में शायद यह सब पहले से बोला जाता रहा हो लेकिन भारत में वॉशरूम शब्द अभी हाल-फिलहाल के वर्षों में ही सामान्य रूप में लोकप्रिय हुआ है।

लेकिन लोग बाथरूम को वॉशरूम ही समझ लेते हैं और बाथरूम के लिए वॉशरूम शब्द का ही प्रयोग कर लेते हैं। वॉशरूम वह जगह है, जहाँ पर फ्रेश होने के लिए जाते हैं।

वॉशरूम के अंदर टॉयलेट सीट होती है, सिंक यानि वाशबेसिन होता है। नल होता है तथा कपड़े बदलने की व्यवस्था भी हो सकती है। वॉशरूम में नहाने की सुविधा हो, यह आवश्यक नहीं। वहाँ पर बाथटब हो ये भी जरूरी नही है। वॉशरूम में टॉयलेट सीट, यूरिनल पॉट और सिंक (वॉशबेसिन) होना जरूरी है। आधुनिक हाईटेक वॉशरूम में कपड़े बदलने की भी सुविधा हो सकती है।

वॉशरूम सामान्यतः सार्वजनिक इमारतों में पाई जाते हैं। हम किसी मॉल में शॉपिंग करने जाते हैं अथवा किसी मूवी थिएटर में मूवी देखने जाते हैं, तो फ्रेश होने के लिए जिस कक्ष का प्रयोग करते हैं, वह वॉशरूम है। वह बाथरूम नहीं है क्योंकि वहाँ पर फ्रेश होने की सुविधा है। यूरिनल एवं टॉयलेट की सुविधा है। लेकिन नहाने की सुविधा नहीं होती है।

वॉशरूम में जाकर फ्रेश तो हुआ जा सकता है, कपड़े बदले जा सकते हैं। लेकिन नहाने की सुविधा हो, ऐसा आवश्यक नहीं। वॉशरूम नहाने की जगह नहीं बल्कि हाथ-मुँह धोने, फ्रेश होने, कपड़े बदलने, यूरिन-टॉयलेट की जगह है।

वॉशरूम जेंडर आधारित होते हैं, क्योंकि वॉशरूम अधिकतर सार्वजनिक इमारतों आदि में ही पाए जाते हैं, इसलिए वॉशरूम स्त्री-पुरुषों के लिए अलग-अलग होते हैं।

…तो अब हमें बाथरूम और वॉशरूम (Bathroom Vs Washroom) के बीच अंतर समझ आ गया होगा। आज ही इस अंतर समझकर व्यवहार करें।

Topic : Bathroom Vs Washroom में अंतर


ये भी पढ़ें…

WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles