Monday, July 15, 2024

अयोध्या के श्रीराम मंदिर कैसे जाएं? जानें पूरी गाइड।

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में प्रभु श्री राम के विग्रह की प्राण-प्रतिष्ठा हो चुकी है। अब हर कोई श्री राम के दर्शन करना चाहता है। श्री राम मंदिर (Shri Ram Mandir) में कैसे जाएं, बिल्कुल आसान तरीके से समझें.. 

श्रीराम मंदिर अयोध्या – एक पूर्ण गाइड (Shri Ram Mandir)

अयोध्या, उत्तर प्रदेश में स्थित एक पवित्र नगरी है जो हिंदू धर्म का महत्वपूर्ण स्थल है। यहाँ पर श्री राम जी की जन्मभूमि स्थित है जहां प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु आकर उनके दर्शन करते हैं। इस पोस्ट हम आपको अयोध्या के राम मंदिर के बारे में विस्तार से बताएंगे।

श्री राम जन्म स्थान

राम मंदिर अयोध्या उत्तर प्रदेश के अयोध्या शहर में स्थित है। यहां पर श्री राम जन्मभूमि है और यह भगवान श्री राम के भक्तों के लिए एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है।

हिंदू धर्म में प्रभु श्री राम का बहुत महत्व है। प्राचीन मान्यताओं और धार्मिक आस्था के अनुसार अयोध्या में ही प्रभु श्री राम का जन्म हुआ था। अयोध्या एक प्राचीन धार्मिक नगरी है। यह 5000 वर्षों से हिंदू धर्म के अनुयायियों के लिए एक पवित्र नगरी रही है।

उस जगह पर जहां पर श्री राम का जन्म हुआ था। वहाँ पर अयोध्या में भव्य विशाल मंदिर बनकर तैयार हुआ है। उसके बाद से 2024 में वहाँ पर भव्य विशाल श्रीराम मंदिर बनकर तैयार हो गया है। जहाँ पर 22 जनवरी 2024 को प्रभु श्री राम के बाल रूप की प्राण प्रतिष्ठा हुई।

उसके बाद से पूरा भारत देश राममय हो गया है। हर कोई अयोध्या जाना चाहता है और प्रभु श्रीराम के दिव्य दर्शन करना चाहता है।

अयोध्या कहाँ पर है?

अयोध्या भारत के उत्तरी राज्य उत्तर प्रदेश में स्थित एक छोटा सा नगर है। जो श्री राम जन्मभूमि होने के कारण एक बेहद पवित्र तीर्थ क्षेत्र बन गया है। अयोध्या दिल्ली से अयोध्या की दिल्ली से दूरी लगभग 700 किलोमीटर है।

दिल्ली से तथा भारत के कई प्रमुख शहरों से अयोध्या के लिए ट्रेन सेवा उपलब्ध है। यदि आपको अयोध्या जाना है तो आप दिल्ली से अयोध्या के लिए ट्रेन से जा सकते हैं। नई दिल्ली रेल्वे स्टेशन अयोध्या जाने के लिए कई ट्रेन उपलब्ध है। अभी हाल में ही दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनस रेल्वे स्टेशन से अयोध्या के लिए वंदे भारत ट्रेन शुरु की गई है। जो आपको दिल्ली से अयोध्या साढ़े आठ घंटे में पहुँचा देगी। ये ट्रेन सुबह 6 बजे चलती है।

इसके अलावा अयोध्या के लिए अब विमान सेवा भी शुरू हो गई है, क्योंकि अयोध्या में भव्य एयरपोर्ट बनकर तैयार हो गया है। भारत के लगभग सभी प्रमुख शहरों से विशेषकर दिल्ली-मुंबई से अयोध्या के लिए सीधी विमान सेवा है।

अयोध्या जाने के लिए यदि आप ट्रेन से आगे जा रहे हैं तो आपको अयोध्याधाम जंक्शन रेलवे स्टेशन उतरना पड़ेगा जो कि नया-नया बना है और यह स्टेशन इतना अधिक विकसित किया गया है कि यह किसी एयरपोर्ट से जैसा लुक देता है।

अयोध्या कब जाएं?

वैसे तो ये आस्था का विषय है। जब आपकी आस्था है आप जा सकते हैं, क्योंकि प्रभु के दर्शन करने के लिए सुविधाएं नही देखी जातीं। फिर भी अगर आप मौसम देखकर जाना चाहे तो श्री राम मंदिर में श्री राम के दर्शन करने के लिए सबसे उचित समय अक्टूबर से मार्च महीने के बीच का है, क्योंकि इस समय बहुत अधिक गर्मी नहीं पड़ती है।

अप्रैल के बाद जून महीने तक यहां पर भीषण गर्मी पड़ती है, इसलिए अक्टूबर से मार्च का महीना का समय सबसे उपयुक्त समय है।

अयोध्या पहुँच कर कहाँ ठहरें

श्रीराम का मंदिर अयोध्याधाम रेल्वे स्टेशन से मात्र 1-2 किलोमीटर की दूरी पर ही है। आप चाहें तो यहाँ पर पैदल या ई रिक्शा के माध्यम से पहुंच सकते हैं।  अगर आप प्लाइट से जा रहे है तो भी अयोध्या एअरपोर्ट उतरकर आप आसानी से श्रीराम मंदिर पहुँच सकते हैं।

 श्री राम मंदिर के आसपास एक से दो किलोमीटर के एरिया में आपको 500 से लेकर 2000 प्रतिदिन के अनेक होटल और धर्मशालाएं मिल जाएंगी। सीजन के अनुसार रेट में उतार-चढ़ाव हो सकता है।

अयोध्या स्टेशन से आपको ई रिक्शा अथवा टैक्सी के रूप में कई तरह के साधन मिल जाएंगे, जिनके द्वारा आप श्री राम मंदिर पहुंच सकते हैं। एयरपोर्ट से भी आपको ई रिक्शा टैक्सी के रूप में सार्वजनिक साधन मिल जाएंगे।

हनुमानगढ़ी मंदिर

अयोध्या में श्री राम का दर्शन करने से पहले मान्यता है कि हनुमानगढ़ी मंदिर जाना बेहद आवश्यक होता है। हनुमानगढ़ी मंदिर हनुमान जी का मंदिर है, जो अयोध्या के हनुमानगढ़ी नामक स्थान पर है। आप यदि अयोध्या सुबह पहुंच जाते हैं तो आप किसी होटल आदि में ठहरकर फ्रेश होकर सबसे पहले हनुमानगढ़ी के दर्शन करें। फिर श्रीराम में श्रीराम के दर्शन करें।

हनुमानगढ़ी मंदिर श्री राम मंदिर के बाद अयोध्या का दूसरा सबसे प्रसिद्ध मंदिर है। यहां पर भक्तों की भीड़ हमेशा लगी रहती है। हनुमानगढ़ी मंदिर में दर्शन के बाद से श्री राम मंदिर की दूरी केवल आधा किलोमीटर है इसीलिए आप हनुमानगढ़ी मंदिर में श्री हनुमान के दर्शन करने के बाद श्री राम मंदिर के दर्शन के लिए निकल सकते हैं।

श्री राम मंदिर

राम मंदिर अयोध्या में दर्शन करने के लिए आपको एक विशेष प्रक्रिया का पालन करना होगा। आपको मंदिर के प्रांगण में अपने मोबाइल और कैमरा जैसी इलेक्ट्रॉनिक चीजें नहीं ले जाने दिया जाता है। आप यहां पर लॉकर पर अपनी चीजें सुरक्षित रख सकते हैं। दर्शन करने के लिए आपको मंदिर के द्वार पर ही निशुल्क लॉकर की सुविधा मिलेगी। आप अपने इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स को इस लॉकर में रख सकते हैं।

दर्शन का समय

राम मंदिर अयोध्या में दर्शन का समय निम्नलिखित है:

  • सुबह 7:00 बजे से 11:30 बजे तक
  • दोपहर 2:00 बजे से शाम को 7:00 बजे तक
  • रात 10:00 बजे तक (केवल श्रीराम जन्मभूमि के लिए)

आरती का समय

राम मंदिर अयोध्या में दो बार आरती होती है। पहली आरती सुबह 6:30 बजे होती है और दूसरी आरती शाम को 7:30 बजे होती है। आप ऑनलाइन श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की वेबसाइट पर जाकर अपने दर्शन का समय रजिस्टर कर सकते हैं।

धार्मिक स्थानों के आसपास होटल

अयोध्या जी में आपको राम मंदिर के आसपास एक से दो किलोमीटर की दूरी पर होटल्स और धर्मशालाओं की विविधता मिलेगी। आप अपनी प्राथमिकता के अनुसार होटल का चयन कर सकते हैं।

प्रमुख दर्शन स्थल

राम मंदिर के अलावा, अयोध्या में कई प्रमुख दर्शन स्थल हैं। हनुमानगढ़ी मंदिर, दशरथ महल, कनक भवन आदि इनमें से कुछ हैं। आप अपनी यात्रा के दौरान इन स्थलों का भी दर्शन कर सकते हैं।

अयोध्या एक तीर्थ नगरी है लेकिन यह एक बहुत बड़ा शहर नहीं है यदि आप चाहे तो एक दिन में ही श्री राम मंदिर के दर्शन तथा अन्य मंदिरों के दर्शन कर सकते हैं। इसके लिए आप एकदम सुबह अयोध्या नगरी पहुंचकर किसी होटल में या धर्मशाला में ठहरें और नहा धोकर तैयार होकर सबसे पहले हनुमानगढ़ी मंदिर में श्री हनुमान जी के दर्शन करें। उसके बाद श्री राम मंदिर के दर्शन करने के लिए जाएं। उसके बाद आप अयोध्या के अन्य मंदिरों के भी दर्शन कर सकते हैं। इस तरह आप एक दिन में ही सभी मंदिरों के दर्शन करके शाम को वापस अपने शहर भी लौट सकते हैं

लेकिन हम आपके सुझाव देंगे कि आप कम से कम दो दिन अयोध्या के लिए निकालकर जाएं, क्योंकि अयोध्या में सरयू नदी के तट पर जो आरती की जाती है, वह बड़ा ही दिव्य वातावरण उत्पन्न करती है। उस आरती में शामिल होकर आरती के दिव्या भाव को अनुभव करें और अगले दिन सुबह आप अपने गंतव्य के लिए प्रस्थान कर सकते हैं।

कौन-कौन से दर्शनीय स्थल हैं?

अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि मंदिर, हनुमानगढ़ी के अलावा कनक भवन, दशरथ महल, गुप्तार घाट, सूरजकुंड, आदि जगह प्रसिद्ध हैं। सरयू नदी के तट पर राम कै पैड़ी पर घाटों पर सुबह के समय और शाम के समय होने वाली आरती भी दर्शनीय होती है।

यदि आप दो दिन का समय निकालकर अयोध्या जा रहे हैं तो आप सुबह और शाम की आरती में भी शामिल हो सकते हैं। राम की पैड़ी वह स्थान है, जहाँ पर सरयू नदी के तट पर घाट बने हैं। यहीं पर आरती होती है और उसके बाद शाम के समय लेजर शो भी होता है, जो देखने लायक होता है।

दशरथ महल वह जगह है, जहाँ पर श्री राम के पिता महाराज दशरथ रहा करते थे। कनक भवन वह जगह है, जहां पर श्री राम माता सीता के साथ रहा करते थे। गुप्तार घाट और सूरजकुंड इन जगहों से थोड़ी दूर पर स्थित हैं, लेकिन वहाँ पर भी घूम जा सकता है।

अयोध्या में जाने का खर्चा कितना होगा?

यदि दो लोगों का परिवार या दो जन अयोध्या जा रहे हैं तो आप चाहे तो अयोध्या में 2 से 3000 रुपये में अपना काम निकाल सकते है। इसमें  होटल आदि में ठहरकर और भोजन आदि करके एक दिन में दर्शन करना शामिल है।

भोजन का खर्च एक व्यक्ति पर 500 से ₹700 हो सकता है और होटल में ठहरने का कर्ज ₹2000 हो सकता है। धर्मशाला मे इससे कम में काम हो जाएगा। यदि आप दो दिन का प्रोग्राम बनाकर जा रहे हैं तो दो व्यक्तिों के लिए 2 से 3000 रुपये में अयोध्या नगरी में दर्शन कर सकते हैं।

यदि आप किसी होटल में नहीं ठहरता चाहते तो अयोध्या छोटा सा नगर है और यहां पर सभी दर्शनीय स्थान के दर्शन एक दिन में ही किया जा सकते हैं। ऐसी स्थिति में आप मात्र ₹500 में भी अपने कार्यक्रम को निपटा सकते हैं, क्योंकि एकदम सुबह आकर सभी मंदिरों के दर्शन कर लें और शाम तक आप वापस निकाल सकते हैं।

अयोध्या छोटा शहर होने के कारण आपको 10 या ₹20 में ई-रिक्शा कहीं पर भी आज आने-जाने के लिए मिल जाएंगे इसलिए यहाँ पर ट्रांसपोर्ट पर बहुत अधिक खर्च नहीं होने वाला।

अंत में…

अयोध्या में राम मंदिर का दर्शन करना एक अद्भुत और आध्यात्मिक अनुभव है। इस स्थान पर आकर श्री राम जी के दर्शन करने का आनंद लें और अपने जीवन को धार्मिकता से प्रेरित करें। यहां पर ध्यान देने योग्य वातावरण और प्राकृतिक सुंदरता आपको शांति और सुकून का अनुभव कराएगी।


ये भी पढ़ें…

हिंदू धर्म के 33 करोड़ देवी-देवता का सच जानकर हैरान रह जाएंगे।

WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles