Thursday, February 22, 2024

वनडे वर्ल्ड कप के वह मैच जिनमें कमजोर टीमों ने ताकतवर टीमों को हराकर उलटफेर किया

वनडे वर्ल्ड कप के वह मैच जिनमें कमजोर टीमों ने ताकतवर टीमों को हराकर उलटफेर किया (Upsetting matches of one-day world cup)

वनडे वर्ल्ड कप चल रहा है, इस वनडे वर्ल्ड कप में अभी तक दो उलटफेर वाले हो चुके हैं। इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीमों को कमजोर मानी जाने वाली अफगानिस्तान और नीदरलैंड्स जैसी टीमों ने हराकर इस वर्ल्ड कप में दो बड़े उलटफेर कर दिए हैं।

अभी आधा टूर्नामेंट बाकी है, इसलिए ये उलटफेर वाले मैचों में हार इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका को काफी प्रभावित कर सकती है और आगे रन रेट का मामला फंसने पर इन दोनों टीमों में से कोई एक या दोनों टीमों पर इसका पूरा असर पड़ सकता है।

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि वर्ल्ड कप में किसी कमजोर टीम ने बड़ी टीम को हराकर उलटफेर किया हो। इससे पहले जितने वर्ल्ड कप हुए हैं, उनमें अक्सर कोई ना कोई उलटफेर मैच होता रहा है। पहले के कई वर्ल्ड कप में भी कमजोर मानी जाने वाली टीमों ने ताकतवर टीमों को हराया है और उलटफेर किया है। कुछ टीमें तो इस उलटफेर से बुरी तरह प्रभावित भी हुईं थीं।

आइए ऐसे ही कुछ उलटफेर के बारे में जानते हैं…

1979 का वनडे वर्ल्ड कप 

वर्ल्ड कप का पहला उलटफेर 1979 के दूसरे वर्ल्ड कप में हुआ, जब बेहद कमजोर माने जाने वाली श्रीलंका की टीम ने भारत को हराया। भारत की टीम उसे समय अच्छी खासी प्रतिष्ठित टीम थी, जबकि श्रीलंका की टीम को टेस्ट मैच खेलने का दर्जा भी हासिल नहीं हुआ था।

भारत और श्रीलंका के बीच 16 से 18 जून के बीच प्रूडेंशियल वर्ल्ड कप का मैच खेला गया। वर्षा के कारण मैच बाधित हुआ था इसलिए दो दिनों में संपन्न हो पाया 16 तारीख को वर्षा के कारण मैच पूरा नहीं हुआ। 17 तारीख को संडे के कारण मैच नहीं खेला गया और 18 तारीख को रिजर्व डे को दोबारा से मैच खेला गया। इस मैच में श्रीलंका ने भारत को  47 रन से हराकर किसी वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का पहला उलटफेर किया।

श्रीलंका ने पहले बैटिंग करते हुए 5 विकेट पर कुल 238 रन बनाए। जवाब में भारत की टीम केवल 191 रन पर ढेर हो गई।

1983 का वनडे वर्ल्ड कप

वर्ल्ड कप का दूसरा उलटफेर 1983 में हुआ और इसका शिकार वर्ल्ड की जानी-मानी टीम ऑस्ट्रेलिया हुई। तब जिम्बॉब्वे जैसी नौसिखिया टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर सनसनी मचा दी।

1983 में इंग्लैंड में हुए तीसरे वर्ल्ड कप में 9 जून 1983 को जिम्बॉब्वे और ऑस्ट्रेलिया के बीच मैच हुआ। जिम्बॉब्वे ने निर्धारित 60 ओवर में 6 विकेट होकर 239 रन बनाए। जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम 60 ओवर में 7 विकेट खोकर केवल 226 रन बना सकी और उसे जिम्बॉब्वे के हाथों 13 रन की हार का सामना करना पड़ा।

इस तरह जिम्बॉब्वे ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर उस समय का सबसे बड़ा उलटफेर किया था। जिम्बॉब्वे बेहद नौसिखिया टीम थी और टेस्ट मैच भी नहीं खेलती थी। वर्ल्ड कप में भी वह पहली बार खेल रही थी। उसे टेस्ट मैच खेलने का दर्जा भी लगभग 9 साल बाद 1993 मे मिला था।

1987 के वर्ल्ड कप में कोई भी बड़ा उलटफेर नहीं हुआ। सभी बड़ी टीमें अपना मैच आसानी से जीत गईं थीं।

1992 का वनडे वर्ल्ड कप 

वर्ल्ड कप का तीसरा उलटफेर 1992 के वर्ल्ड कप में हुआ, जब बेहद कमजोर मानी जाने वाली जिम्बॉब्वे की टीम ने बेहद ताकतवर मानी जाने वाली इंग्लैंड की टीम को ग्रुप मैच में हरा दिया।

उस समय जिम्बॉब्वे की टीम को टेस्ट मैच खेलने का दर्जा तक नहीं मिल पाया था, जबकि इंग्लैंड की टीम वर्ल्ड की प्रतिष्ठित टीम थी और उस टूर्नामेंट में फाइनल में भी पहुंची थी, लेकिन 18 मार्च 1992 को खेले गए मैच में जिम्बॉब्वे ने इंग्लैंड को 9 रन से हराकर सनसनी मचा दी। जिम्बॉब्वे 1983 में भी ऑस्ट्रेलिया को हराकर ये कारनाम पहले भी कर चुका था।

जिम्बॉब्वे ने पहले बैटिंग करते हुए कल 40.8 ओवर में 134 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड जैसी टीम 49.1 ओवर में कुल 125 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस तरह जिम्बॉब्वे ने 9 दिन से हराकर एक बड़ा उलटफेर कर दिया। हालाँकि इससे इंग्लैंड टीम पर कोई फर्क नहीं पड़ा। उसने आगे लंबा सफर तय किया और फाइनल तक पहुंची।

1996 का वनडे वर्ल्ड कप

वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के इतिहास में तीसरा बड़ा उलटफेर 1996 के वर्ल्ड कप में देखने को मिला, जब केन्या जैसी बेहद कमजोर समझी जाने वाली टीम ने वेस्टइंडीज जैसी दो बार की वर्ल्ड चैंपियन टीम को हरा दिया। केन्या ने पहली बार वर्ल्ड कप में भाग लिया था जबकि वेस्टइंडीज दो बार वर्ल्ड चैंपियन रह चुकी थी।

29 फरवरी 1996 को पुणे में खेले गए मैच में केन्या ने वेस्टइंडीज को 73 रन से हराकर एक बड़ा उलटफेर कर दिया। केन्या ने पहले बैटिंग करते हुए 49.3 ओवर में कुल 166 रन बनाए। जवाब में वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टीम 35.5 ओवर में केवल 93 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। ऐसा पहली बार हुआ था जब किसी बेहद कमजोर माने जाने वाली टीम ने वर्ल्ड चैंपियन टीम को हराया हो हराया हो

हालांकि इस उलटफेर से वेस्टइंडीज पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा, क्योंकि उसने आगे टूर्नामेंट में सेमीफाइनल भी खेला और सेमीफाइनल में वह ऑस्ट्रेलिया से हार गई थी।


1999 का वर्ल्ड कप

वर्ल्ड कप के इतिहास में चौथा बड़ा उलटफेर 1999 के वर्ल्ड कप में देखने को मिला, जब जिम्बॉब्वे ने भारत को तीन रन से हराकर एक बड़ा उलटफेर कर दिया।

जिम्बॉब्वे की टीम उस समय की कमजोर टीमों में से एक टीम थी, जबकि भारत की टीम एक मजबूत टीम थी और वह एक बार वर्ल्ड चैंपियन भी रह चुकी थी, लेकिन जिम्बॉब्वे ने भारत को तीन रन से हरा दिया।

19 मई 1999 को इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप मैच में जिम्बॉब्वे ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवर में 9 विकेट पर 252 रन बनाए। जवाब में भारत की टीम 45 ओवर में केवल 249 रन बनाकर ही ऑल आउट हो गई। इस तरह जिम्बॉब्वे ने भारत को 3 रन से हराकर सनसनी मचा दी।

इसी वर्ल्ड कप में जिम्बॉब्वे ने एक और उलटफेर कर दिया, जब उसने साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीम को 48 रन से हराया।

29 मई 1999 को जिम्बॉब्वे और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए मैच में जिम्बॉब्वे ने 50 ओवर में 6 विकेट खोकर 233 रन बनाए। जवाब में साउथ अफ्रीका की टीम 47.2 ओवर में कुल 185 रन पर ही ऑल आउट हो गई। इस तरह इस टूर्नामेंट में जिम्बॉब्वे ने भारत और साउथ अफ्रीका दो मजबूत टीमों को हराकर टूर्नामेंट में सनसनी मचा दी थी।

इसी वर्ल्ड कप में एक तीसरा उलटफेर फिर देखने को मिला, जब बांग्लादेश जैसी कमजोर टीम ने पाकिस्तान को 5 विकेट से हराकर एक बड़ा उलटफेर कर दिया।

31 मई 1999 को बांग्लादेश और पाकिस्तान के बीच खेले गए मैच में बांग्लादेश ने 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 223 रन बनाए। जबाव में पाकिस्तान की टीम 44.3 ओवर में केवल 161 रन बनाकर आल आउट हो गई।

इस तरह 1999 का वर्ल्ड कप तीन बार उलटफेर वाले मैचों के लिए जाना जाता है।

भारत जब जिम्बॉब्वे से हार गया तो उस पर इसका प्रभाव भी पड़ा और वह आगे चरण के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाया। यदि भारत जिंबॉब्वे से वह मैच नहीं हारता तो वह अगले चरण के लिए क्वालीफाई कर सकता था जबकि पाकिस्तान पर बांग्लादेश की हार का कोई फर्क नहीं पड़ा और वह उस वर्ल्ड कप का फाइनल मैच भी खेला था।


2003 का वनडे  वर्ल्ड कप

वर्ल्ड कप का सातवां उलटफेर 2003 के वर्ल्ड कप में देखने को मिला, जब श्रीलंका जैसी मजबूत टीम को केन्या जैसी कमजोर टीम ने हरा दिया।

श्रीलंका की टीम 2003 तक अच्छी पहचान बना चुकी थी और एक बार वर्ल्ड चैंपियन भी बन चुकी थी, जबकि केन्या की टीम अभी भी कमजोर टीम ही मानी जाती थी।

24 फरवरी 2003 को दक्षिण अफ्रीका में खेले गए मैच में केन्या ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवर में 9 विकेट कोकर 210 रन बनाए जवाब में श्रीलंका की टीम 45 ओवर में मात्र 157 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस तरह श्रीलंका ने केन्या ने श्रीलंका को 53 रन से हराकर एक बड़ा उलटफेर कर दिया।

हालांकि इस उलटफेर का दोनों टीमों पर कोई असर नहीं पड़ा क्योंकि यह सुपर सिक्स स्टेज थी, जिसमें श्रीलंका और केन्या दोनों टीमें पहुंची थीं और आगे दोनों टीमों ने सेमीफाइनल भी खेला। उस वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत, ऑस्ट्रेलिया, केन्या और श्रीलंका यह चार टीमों ने सेमीफाइनल खेला था।


2007 का वर्ल्ड कप

2007 के वर्ल्ड कप में दो बड़े उलटफेर हुए। यह दोनों बड़े उलटफेर भारत और पाकिस्तान जैसी मजबूत टीमों के विरुद्ध हुए।

इन दोनों बड़े उलटफेर मैचों का परिणाम यह हुआ कि भारत और पाकिस्तान जैसी विश्व चैंपियन टीमें  2007 के वर्ल्ड कप में पहले दौर में ही बाहर हो गईं।

2007 के वर्ल्ड कप में बांग्लादेश जैसी कमजोर टीम ने भारत जैसी मजबूत टीम को हराकर सनसनी मचा दी। इस हार का परिणाम यह हुआ कि भारत को पहले दौर से ही बाहर होना पड़ा।

17 मार्च 2007 को भारत और बांग्लादेश के बीच मैच हुआ। भारत ने पहले बैटिंग करते 43.3 ओवर में कल 191 रन बनाए और ऑल आउट हो गई। जवाब में बांग्लादेश ने 48.3 ओवर में 5 विकेट कोकर 192 रन बनाकर मैच जीत लिया।

बांग्लादेश द्वारा इस हार के कारण भारत टूर्नामेंट के पहले दौर से ही बाहर हो गया क्योंकि उसने इस टूर्नामेंट में केवल बरमूडा के खिलाफ ही एक मैच जीता था। उसे बांग्लादेश और श्रीलंका दोनों से हार का सामना करना पड़ा था।

इसी वर्ल्ड कप में दूसरा उलटफेर तब हुआ, जब पाकिस्तान को आयरलैंड ने हराकर सनसनी मचा दी। 17 मार्च 2007 को किंग्सटन के सबीना पार्क में खेले गए मैच में पाकिस्तान ने पहले बैटिंग करते हुए 45.4 ओवर में कुल 132 रन बनाए और ऑल आउट हो गई। जवाब में आयरलैंड जैसी कमजोर टीम ने 41.5 ओवर में 7 विकेट खोकर कल 133 रन बना लिए और उसने पाकिस्तान को तीन विकेट से हराकर मैच जीत लिया। इस तरह आयरलैंड ने पाकिस्तान को हराकर उसे टूर्नामेंट से भी बाहर कर दिया।

भारत और पाकिस्तान दोनों टीमें टूर्नामेंट के पहले दौर से ही बाहर हो गईं। यह वर्ल्ड कप के इतिहास में पहली बार हुआ था।

2011 का वर्ल्ड कप

2011 में भी एक बड़ा उलटफेर देखने को मिला, जब आयरलैंड जैसी कमजोर टीम ने इंग्लैंड को हराकर एक बड़ा उलटफेर कर दिया।

2011 के वर्ल्ड कप में इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच बेंगलुरु के और चिन्नास्वामी स्टेडियम में मैच हुआ। इंग्लैंड ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवर में 8 विकेट होकर 327 रन बनाए। जवाब में आयरलैंड जैसी कमजोर टीम ने 49.1 ओवर में 7 विकेट खोकर 329 रन बनाकर मैच जीत लिया। इस तरह आयरलैंड ने इंग्लैंड को 3 विकेट से हराकर एक बड़ा उलटफेर करते हुए सनसनी मचा दी। हालाँकि इंग्लैंड पर इस हार का कोई विशेष प्रभाव नहीं पड़ा और वह अगले दौर यानी क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई कर गई थी, जबकि आयरलैंड टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी क्योंकि उसे बाकी पाँच में से चार मैचों में हार का सामना करना पड़ा था।

2015 का वर्ल्ड कप

2015 के वर्ल्ड कप में भी एक बड़ा उलटफेर देखने को मिला, जब आयरलैंड ने वेस्टइंडीज को हराकर उलटफेर कर दिया।

2015 के वर्ल्ड कप में आयरलैंड और वेस्टइंडीज के बीच 16 फरवरी 2015 को न्यूजीलैंड में नेल्सन के सेक्सस्टोन ओवल मैदान में मैच हुआ। वेस्टइंडीज ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवर में 7 विकेट होकर 304 रन बनाए। जवाब में आयरलैंड की टीम ने 45.5 ओवर में 6 विकेट कोकर 307 रन बनाकर चार विकेट से मैच जीत लिया। इस तरह उसने वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टीम को हराकर उलटफेर तो किया लेकिन इस उलटफेर का टूर्नामेंट का कोई प्रभाव नहीं पड़ा।

वेस्टइंडीज अगले दौर यानि सुपर 8 के चरण के लिए क्वालीफाई कर गई थी। हालाँकि आयरलैंड और वेस्टइंडीज से बहुत अधिक पीछे नहीं थी और उसके वेस्टइंडीज के समान ही पॉइंट थे, लेकिन रन रेट के मामले में ऑनलाइन की टीम थोड़ा सा चूक गई। यदि आयरलैंड वेस्टडंडीज को थोड़ा और अधिक रनों के अंतर से हराती तो वह वेस्टइंडीज की जगह सुपर 8 यानि क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई कर जाती।

2019 का वर्ल्ड कप

2019 में इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप में बांग्लादेश ने साउथ अफ्रीका को हराकर उलटफेर किया। बांग्लादेश की टीम इतनी कमजोर टीम नही थी लेकिन वह बहुत अधिक मजबूत टीम भी नही है।

2019 के वर्ल्ड कप में बांग्लादेश और साउथ अफ्रीका के बीच 2 जून 2019 को लंदन के द ओवल में मुकाबला हुआ। बांग्लादेश ने 50 ओवर में 6 विकेट कोकर 330 रन बनाए जवाब में साउथ अफ्रीका की टीम 50 ओवर में 8 विकेट होकर केवल 309 रन की बना सकी। इस तरह बांग्लादेश ने साउथ अफ्रीका को 21 रन से हराकर एक बड़ा उलटफेर  किया। हालाँकि की इससे दोनों टीमों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा क्योंकि दोनों ही टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने से चूक गई थीं।

2023 का वर्ल्ड कप

2023 के वर्ल्ड कप में अभी तक दो उलटफेर हो चुके हैं। 2023 के वर्ल्ड कप में पहला उलटफेर इंग्लैंड और अफगानिस्तान के बीच हुए मैच में देखने को मिला, जब अफगानिस्तान ने इंग्लैंड को हराकर इस टूर्नामेंट का पहला बड़ा उलटफेर कर दिया।

2023 के वर्ल्ड कप में इंग्लैंड और अफगानिस्तान के बीच नई दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में 15 अक्टूबर 2023 को मैच हुआ। अफगानिस्तान ने 49.5 ओवर में पहले बैटिंग करते हुए ऑल आउट होकर 284 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड की टीम 40.3 ओवर में 215 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस तरह अफगानिस्तान ने 69 रन से इंग्लैंड को हराकर मैच जीता और टूर्नामेंट का पहला उलटफेर कर दिया।

टूर्नामेंट का दूसरा उलटफेर 17 अक्टूबर 2023 को साउथ अफ्रीका और न्यूजीलैंड की टीम के बीच मैच में हुआ। साउथ अफ्रीका की टीम पहले दो मैच बड़े अंतर से जीत चुकी थी और टूर्नामेंट में बेहद मजबूत नजर आ रही थी। वह वैसे भी मजबूत टीम मानी जाती है। नीदरलैंड्स की टीम उसके सामने काफी कमजोर है लेकिन नीदरलैंड्स ने फिर भी साउथ अफ्रीका को हराकर उलटफेर कर दिया।

17 अक्टूबर 2023 को नीदरलैंड्स और साउथ अफ्रीका के बीच हुए मैच में नीदरलैंड्स ने पहले बैटिंग करते हुए 43 ओवर में 8 विकेट खोकर 245 रन बनाए। जवाब में साउथ अफ्रीका की टीम 42.5 ओवर में केवल 207 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस तरह नीदरलैंड्स ने साउथ अफ्रीका को 38 रन से हराकर इस टूर्नामेंट का दूसरा बड़ा उलटफेर कर दिया।

अभी तक टूर्नामेंट पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है, इसलिए इन दोनो उलटफेर का चारों टीमों पर क्या प्रभाव पड़ेगा ये देखना होगा। हो सकता है कि इस टूर्नामेंट में आगे भी कोई बड़ा उलटफेर देखने को मिले।

संक्षेप में कहा जाए तो वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के इतिहास में हर बड़ी टीम किसी कमजोर टीम से हार कर उलटफेर का शिकार हुई है, केवल न्यूजीलैंड एक ऐसी टीम है जो अब वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में अभी तक किसी कमजोर टीम से हार कर उलटफेर का शिकार नहीं हुई है।
केवल न्यूजीलैंड ही इसका अपवाद है, नहीं तो भारत, पाकिस्तान ,ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज  और श्रीलंका जैसी वर्ल्ड चैंपियन टीमें तथा साउथ अफ्रीका जैसी प्रतिष्ठित टीमें, ये सभी टीमें वर्ल्डकप टूर्नामेंट में उलटफेर का  शिकार हुई हैं।

Upsetting matches of One-day World Cup


Rules of Kabaddi – कबड्डी कैसे खेलें? कबड्डी खेल के नियम और पूरी जानकारी।

WhatsApp channel Follow us

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follows us on...

Latest Articles