कोरोना एक महामारी (निबंध)

निबंध

कोरोना : एक महामारी

कोरोना महामारी क्या है ?

दरअसल कोरोना एक प्राण घातक रोग है और इससे बचाव ही इसकी दवा है । इस महामारी को पहले कभी नहीं देखा गया है । यह एक ऐसी बीमारी है जो सीधे तौर पर आपके श्वसन तंत्र को प्रभावित करती है । यह इतनी प्रभावशाली है की अगर इसका सही वक़्त में इलाज नहीं किया तो मनुष्य के प्राण जाने तक की हालत हो जाती है । इसका प्रकोप केवल भारत में नहीं बल्कि पूरे विश्व में खराब हालत बन गए है ।

यहाँ तक की डब्लू एच ओ( WHO) इसे महामारी घोषित कर चुकी है । इसके शुरुआती लक्षण फ्लू जैसे ही होते हैं जो धीरे-धीरे एक विकराल रूप धारण कर लेता है । जिसका महामारी धीरे-धीरे पूरे शरीर में फैलने लगता है ।

कोरोना महामारी की शुरुआत कैसे और कहाँ से हुई ?

कोरोना महामारी की शुरुआत वर्ष 2019 दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुई । जो की देखते देखते पुरे विश्व में फैल गया । अंत : काल वर्तमान में कोरोना हामारी अथवा कोविड-19 एक महामारी का रूप ले लिया है जिसका कोई इलाज नहीं मिल पाया है ।

क्या है कोरोना महामारी के लक्षण ?

डब्लूएचओ (WHO) के मुताबिक सांस लेने में दिक्कत, बुखार, सर्दी और खासी, गले में खराश, शरीर में थकान, मांसपेशियों में जकड़न, कोरोना महामारी के लक्षण है । इस महामारी का लक्षण किसी व्यक्ति में तुरंत दिखाई देता है तो किसी व्यक्ति में एक हफ्ते बाद से इस महामारी का लक्षण दिखना शुरू होता है ।

बुजुर्ग लोगों में यह महामारी का संक्रमण बड़ी आसानी से फ़ैल जाता है । जिन लोगों को मधुमेह रोग होता है उन लोगों में इस महामारी का संक्रमण बड़ी तेज़ी से फैलता है ।

कोरोना महामारी से कैसे बचे ?

बचाव के उपाय– विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना महामारी से बचाव के लिए कई दिशा – निर्देश जारी किए हैं । इनके अनुसार कोरोना से बचने का सबसे अच्छा उपाय है कि सभी स्वयं की देखभाल करें । आप जितना अधिक स्वयं को सुरक्षित करेंगे उतना ही कम कोरोना होने की सम्भावना रहेगी । यह पाया गया है कि जिसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होती है वह कोरोना को आसानी से हरा सकता है । इसलिए अपने खान – पान पर विशेष ध्यान दें ।

इसके अलावा भी कुछ और भी बचाव हैं जिनका पालन सबको करना चाहिए ।
  • सार्वजनिक स्थानों पर सदैव मास्क का प्रयोग करें ।
  • आवश्यक न होने पर घर से बाहर न निकलें ।
  • हमेशा कोई बाहरी वस्तु छूने के बाद साबुन से अच्छे से हाथ अवश्य धोएँ या सेनिटाइजर का उपयोग करें ।
  • साबुन से हाथों को कम से कम 30 सेकेण्ड तक अच्छे से धोएँ ।
  • लोगों से 5 से 6 फीट की दूरी बनाये रखें ।
  • बाहर से लाये गये सामान को अच्छे से विसंक्रमित कर लें तब घर में रखें ।
  • संदिग्ध स्थिति में खुद को दूसरों से अलग कर लें ।
  • आँख, नाक और मुँह को छूने से बचें ।
  • न तो किसी के घर जाएँ और न ही किसी को अपने घर बुलाएँ ।
  • इस दौरान कहीं भी अनावश्यक यात्रा करने से बचें ।
  • यदि आप संक्रमित इलाके से आए हैं या किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में रहे हैं तो आपको अकेले रहने की सलाह दी जाती है । अतः घर पर ही रहें ।

ये भी देखें…

दूरदर्शन शाप या वरदान? (लघु निबंध)

कोविड-19 महामारी से पहले और बाद में जीवन शैली के बदलाव निबंध लिखेंI

सेल्फी शाप या वरदान इस विषय पर निबंध लिखिए।

मैं पंछी बोल रहा हूँ…’ विषय पर निबंध लिखिए ।

धर्म संबंधी अपनी मान्यता पर लेख/निबंध लिखिए।

Leave a Comment