आपके मित्र की दीदी का विवाह था। परीक्षाएँ निकट होने के कारण आप उस विवाह में सम्मिलित न हो पाए। इस संदर्भ में क्षमायाचना करते हुए अपने मित्र को पत्र लिखिए।

दिनांक-09-02-2023,

प्रिय मित्र,

प्रिय मित्र कुनाल, आशा करता हूँ, तुम ठीक होगे । माफ़ी चाहता हूँ, बहुत दिनों के बाद पत्र लिख रहा हूँ । सबसे पहले तुम्हें दीदी की शादी की बहुत-बहुत बधाई हो ।

विवाह में सम्मिलित न होने के कारण माफ़ी चाहता हूँ, विवाह के समय मेरी परीक्षाएं निकट आ गई थी । अध्यापक ने मुझे 1 दिन की छुट्टी नहीं दी । मैं बहुत आने की कोशिश की पर मैं नहीं आ पाया । इस बात का मुझे बहुत दुःख है, इसके लिए तुमसे दिल से माफ़ी मांगता हूँ । आशा करता हूँ, तुम मेरी बातों को समझोगे और मुझे क्षमा करोगे ।

अपना ध्यान रखना और तुम्हारे पत्र का इंतजार करूंगा । तुम्हें मिलने जल्दी आऊंगा ।

तुम्हारा मित्र,

सुमित ।

 

Partner website…

miniwebsansar.com

 

ये भी देखें…

Ajmer brahman ki yatra par mitra ko part (अजमेर भ्रमण की यात्रा पर मित्र को पत्र)

पत्रलेखन अनौपचारिक पत्र २०, सुभाषनगर, आंबिवली से आर्थन / आर्या परांजपे अपने मित्र / सहेली महेश / महिमा पाटील, 12, | शुक्रवार पेठ, कोल्हापूर को पत्र लिखकर निबंध प्रतियोगिता में प्रथम आने के लिए बधाई देते हुए पत्र लिखता / लिखती है।

5 53. 21, सरस्वती सदन, दरियापुर, अहमदाबाद – 380001 से सलीम शेख, ‘कौमी एकता’ पर अपने विचार, सूरत- निवासी अपने मित्र महेन्द्र पटेल के नाम लिख भेजता है।

Apne mitra ke raste football team mein chayan hone par badhai patra likhen (अपने मित्र को राष्ट्रीय फुटबॉल टीम में चयन होने पर बधाई पत्र लिखें ।)

जीवन रूपी पथ पर निरंतर गतिशील रहने की प्रेरणा देते हुए अपने मित्र को पत्र लिखें​।

Leave a Comment