‘गरजा मर्कट काल समाना’ में कौन सा अलंकार है?

‘गरजा मर्कट काल समाना’ में अलंकार

गरजा मर्कट काल समाना

अलंकार : उपमा अलंकार
जानें क्यों?

‘गरजा मर्कट काल समाना’ इस पंक्ति में उपमा अलंकार है, क्योंकि इस पंक्ति में मर्कट यानि वानर की तुलना काल से की गई है। उपमा अलंकार में दो व्यक्तियों अथवा वस्तुओं के बीच आपस तुलना करके उनमें समानता दर्शाई जाती है।

उपमा अलंकार क्या है?

उपमा अलंकार किसी अलंकार का वह भेद है, जहाँ पर किसी काव्य में किसी एक व्यक्ति अथवा वस्तु की तुलना किसी दूसरी व्यक्ति अथवा वस्तु के साथ की जाए अर्थात उपमेय और उपमान के बीच के भेद को मिटाकर वहाँ पर समानता का भाव दर्शाया जाए तो उस पंक्ति में ‘उपमा अलंकार’ प्रकट होता है।

 


ये भी जानें

“बाल कल्पना के से पाले” में अलंकार है?

अचल दीपक समान में रहना अलंकार है​?

गर्म दिशाओं की साँसों में कौन सा अलंकार है |

मोर मुकुट में प्रयुक्त अलंकार बताइए।

बिरहा बिहार में कोन सा अलंकार है ?

Leave a Comment